राजपूत समाज के लोग केसरिया साफा पहन पहुंचे मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करने

जयपुर, 3 नवम्बर (कासं.)। प्रदेश की राजकीय सेवाओं एवं शिक्षण संस्थाओं में ईडब्ल्यूएस आरक्षण में अचल संपत्ति का प्रावधान हटाने पर बड़ी संख्या में राजपूत समाज के लोग मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करने मुख्यमंत्री निवास पहुंचे। केसरिया साफा पहनकर आए राजपूत समाज के लोगों ने नारे लगाकर, साफा पहनाकर एवं तलवार भेंट कर मुख्यमंत्री का पूरी गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के इस निर्णय से समाज के युवाओं को आगे बढऩे का अवसर मिलेगा। वहीं इस मौके पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) के आरक्षण में लोगों ने अचल संपत्ति के नियमों में कुछ शिथिलता देने की मांग रखी थी, लेकिन हमारी सरकार ने तो इससे भी एक कदम आगे बढ़ाते हुए अचल संपत्ति की सभी बाधाएं समाप्त कर दी। इससे लोगों को ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट बनवाने के लिए अब पटवारी, तहसीलदार और एसडीएम कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार के इस फैसले से सामान्य वर्ग के उन परिवारों को सम्बल मिलेगा, जो आर्थिक रूप से कमजोर होने के बावजूद ईडब्ल्यूएस आरक्षण का लाभ नहीं ले पा रहे थे। हमने राज्य की नौकरियों और शिक्षण संस्थानों के लिए अचल संपत्ति की तमाम बाधाएं खत्म कर दी हंै, अब केंद्र सरकार भी इस दिशा में पहल करे तो केंद्र की सेवाओं और शिक्षण संस्थाओं में भी आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग का भला हो सकता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *