श्रीगंगानगर में यातायात व्यवस्था सुधारने के लिए अनेक निर्णय, जल्द होगी क्रियान्वित

श्रीगंगानगर, 3 अक्टूबर (का.सं.)। श्रीगंगानगर में यातायात व्यवस्था सुधारने और मुख्य मार्गों पर से अतिक्रमण हटाने के लिए आज एक बैठक हुई, जिसमें कई निर्णय लिए गए। जिला यातायात सलाहकार समिति की पिछले दिनों हुई बैठक में लिए गए निर्णयों की पालना करने के लिए अनेक कदम उठाये जा रहे हैंं। नगर परिषद में आज आयुक्त प्रियंका बुडानिया, जिला परिवहन अधिकारी सुमन डेलू और यातायात पुलिस प्रभारी कुलदीप चारण आदि अधिकारी बैठक में शामिल हुए। इससे पहले परिवहन अधिकारी सुमन डेलू और यातायात प्रभारी कुलदीप चारण ने प्राइवेट तथा रोडवेज की बसों के चालकों और ऑटो रिक्शा चालकों के साथ अलग-अलग बैठकें की। प्राप्त जानकारी के अनुसार इन बैठकों में निर्णय लिया गया है कि शहर में जहां भी प्राइवेट बसें खड़ी होती हैं, उनके लिए एक जगह निर्धारित की जाए। यह जगह जिला कारागृह के पीछे आयकर विभाग कार्यालय के पास निर्धारित की गई है प्राइवेट बस ऑपरेटरों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपनी बसें जिला कारागृह के पीछे वाली रोड से ही संचालित करें। इसके अलावा अगर कहीं प्राइवेट बस खड़ी दिखाई देती हैंं तो परिवहन विभाग तथा यातायात पुलिस कार्रवाई करेगी। शहर में जिन जगहों पर अतिक्रमण की वजह से यातायात प्रभावित हो रहा है, वहां से अतिक्रमण हटाने का फैसला किया गया है। सूत्रों के अनुसार केंद्रीय बस अड्डे के सामने की रोड पर दोनों तरफ अतिक्रमण को हटाने की कार्रवाई जल्दी ही की जाएगी। केंद्रीय बस अड्डा से पदमपुर मार्ग की तरफ सफाई अभियान चलाने पर सहमति हुई है। कल शुक्रवार सुबह 8 बजे नगर परिषद के अधिकारियों के नेतृत्व में स्वच्छता अभियान के तहत सफाई कार्य किया जाएगा। जानकारी के अनुसार एक बड़ा फैसला यह किया गया है कि शिव चौक से सुखाडिय़ा सर्किल के बीच न्यू क्लॉथ मार्केट एसोसिएशन के सामने रोड डिवाइडर के कट को बंद करवाया जाएगा। इस की वजह से यातायात जाम हो जाता है।चहल चौक से नाथांवाला के बीच चैताली एनक्लेव वह बालाजी धाम के निकट भी दो जगह डिवाइडर कट बंद करवाए जाएंगे। इन कट की वजह से यहां हादसे हो रहे हैं। आज गुरुवार को भी बालाजी धाम के पास भीषण दुर्घटना हो गई। यातायात पुलिस की ओर से नगर परिषद को सुझाव दिया गया है कि मीरा चौक से सुखाडिय़ा सर्किल तक बनाए जा रहे रोड डिवाइडर को ऊंचा रखा जाए। अभी जो डिवाइडर बनाया जा रहा है, उसकी ऊंचाई कम है। डिवाइडर की ऊंचाई कम होने के कारण हादसे होंगे। नगर परिषद अधिकारियों ने डिवाइडर ऊंचा करवाने का आश्वासन दिया है। इसी प्रकार मीरा चौक से चहल चौक तक बनाए गए रोड डिवाइडर को भी ऊंचा किया जाएगा। गौशाला रोड पर भाटिया पेट्रोल पंप से लेकर उधम सिंह चौक को जाने वाले मुख्य मार्ग के दोनों तरफ नो पार्किंग के लिए लाइनिंग करवाई जाएगी। परिवहन विभाग तथा यातायात पुलिस ने ऑटो रिक्शा चालकों के साथ बैठक में इस बात पर जोर दिया कि वे ई-रिक्शा को अपनाएं। डीजल व पेट्रोल से चलित ऑटो रिक्शा के कारण प्रदूषण बढ़ रहा है। शहर में ऑटो रिक्शा प्राइवेट तथा रोडवेज बसों के स्टॉपेज बनाने पर भी सहमति हुई है। रोडवेज तथा प्राइवेट बसों के चालकों को यूनिफॉर्म पहनने के लिए पाबंद किया गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *