राजस्थान के लिए शेयर चैट ने जारी की यूजीसी ट्रैंड्ज़ रिपोर्ट

 

जयपुर, 18 दिसंबर(एजेन्सी)। सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म शेयरचैट ने राजस्थान संबंधी 2019 वर्षांत की ‘यूजऱ जैनरेटिड कॉन्टेंट (यूजीसी) ट्रेंड्ज़ रिपोर्ट जारी की है। यह रिपोर्ट मुख्य यूजीसी रुझानों एवं विषयों के बारे में बताती है जिन्होंने साल 2019 के दौरान राजस्थान में हिंदी और राजस्थानी भाषाओं में ऑनलाइन चर्चाओं को आगे बढ़ाया है। इस रिपोर्ट में बाजार से आने वाले उन हजारों नए क्रिएटरों पर प्रकाश डाला गया है जिन्होंने इस साल इस प्लैटफॉर्म को जॉइन किया है, जो अपनी प्रतिभा दिखाकर मशहूर हुए और जिन्होंने बिक्री हासिल की। ‘भक्ति इस वर्ष ट्रैंड में सबसे ऊपर रही है, 16 प्रतिशत से ज्यादा प्रयोक्ताओं ने इसी विषय पर कॉन्टेंट बनाया या पोस्ट किया है। ‘रोमांस और रिलेशनशिप दूसरे नंबर पर ट्रैंड कर रही है, 13.26 प्रतिशत कॉन्टेंट इसी विषय पर पोस्ट किया गया। दिलचस्प बात यह रही की ‘फैशन का विषय सबसे नीचे रहा, केवल 2 प्रतिशत लोगों ने इस विषय का कॉन्टेंट पोस्ट किया। शेयरचैट के अधिकांश प्रयोक्ता 18 से 30 आयु वर्ग के हैं। इस से भारत के सोशल मीडिया स्पेस की हैरतअंगेज़ जानकारी प्राप्त होती है और पता लगता है कि भारत में कॉन्टेंट खपत का पैटर्न कितना विविधतापूर्ण है। राजस्थान ट्रैंड्ज़ रिपोर्ट पर शेयरचैट के चीफ बिजऩेस ऑफिसर सुनील कामत ने कहा कि राजस्थान भारतीय विरासत, सांस्कृतिक समृद्धि, परम्पराओं, सरल जीवन, भोजन प्रेम, समाज, लोगों और समग्र रूप से भारत को बखूबी दर्शाता है। राजस्थान और शेयरचैट के बीच तालमेल की वजह से यहां के लोगों का यह पसंदीदा प्लैटफॉर्म बन गया है, जहां वे अपनी प्रादेशिक भाषा में एक दूसरे से जुड़ते हैं और संवाद कायम करते हैं बिना किसी स्थानीय संकोच/अवरोध के। साल दर साल हम इस बाजार में बढ़ते आए हैं क्योंकि हम यहां के लोगों के दिल व नब्ज़ को समझते हैं तथा अपनी सारी स्थानीय ऑडिऐंस से हम कनेक्ट करते हैं। उन्होंने आगे कहा कि क्षेत्रीय भाषा के इस्तेमाल ने राजस्थान में यूजीसी के बर्ताव को प्रेरित किया है तथा जमीनी स्तर पर माइक्रो इंफ्लुऐंसर्स की वृद्धि को बढ़ावा दिया है। ब्रांडों ने अपनी ऑडियेंस की क्षेत्रीय भाषा में उनसे संवाद स्थापित करना शुरु कर दिया है जिससे बहुत ही निजीकृत ब्रांड अनुभव मिलता है जो कि प्रभावशाली होता है और उससे बेहतर परिणाम मिलते हैं।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *