दो दिन बाद शुरू होगी सरल पेंशन योजना, परिवार में ये लोग उठा पाएंगे लाभ

नई दिल्ली। दो दिन बाद यानी 1 अप्रैल से सरल पेंशन योजना शुरू होने वाली है। बीमा नियामक इरडा ने जीवन बीमा कंपनियों को एक अप्रैल 2021 से सरल पेंशन योजना की शुरुआत करने को कहा है। सरल पेंशन प्लान के तहत बीमा कंपनियों को केवल दो एन्युटी (वार्षिकी) देने का विकल्प देगा। इरडा की ओर से जारी दिशा-निर्देश में कहा गया है कि सरल पेंशन प्लान के तहत मैच्योरिटी लाभ नहीं मिलेगा। हालांकि, इसमें 100 फीसदी खरीद मूल्य की वापसी का विकल्प होगा। नियामक ने दिशा-निर्देश में कहा है कि पॉलिसी शुरू होने की तारीख से छह महीने के बाद किसी भी समय पॉलिसी सरेंडर की जा सकती है। दिशा-निर्देशों के मुताबिक, न्यूनतम एन्युटी राशि एक हजार रुपये प्रति माह, तीन हजार रुपये प्रति तिमाही, छह हजार रुपये प्रति छमाही या 12 हजार रुपये सालाना होगी। इरडा ने कहा है कि बीमा कंपनियों के प्लान में एकरूपता रखने और सभी जीवन बीमा कंपनियों की ओर से उत्पाद उपलब्ध कराने के लिए यह एक औसत ग्राहक की जरूरतों को पूरा करेगा। इरडा ने कहा है कि सामान्य सुविधाओं और मानक नियमों और शर्तों के साथ व्यक्तिगत तत्काल एन्यूटी उत्पाद पेश करना जरूरी है। विशेषज्ञों का कहना है कि इरडा की इस पहल से उपभोक्ताओं के लिए प्लान का चुनाव करना आसान हो जाएगा। क्या है एन्युटी-किसी पेंशन प्लान में आपकी जमा के बदले कंपनियां जो सालाना राशि देने का वादा करती हैं उसे वार्षिकी (एन्युटी) कहा जाता है। अवधि का चुनाव मासिक, तिमाही, छमाही या सालाना आधार पर करने का विकल्प होता है। सेवानिवृत्ति के बाद नियमित आय के लिए पेंशन प्लान के तहत इसकी सुविधा मिलती है।ज्यादा सुविधाजनक और फायदेमंद-इरडा के मुताबिक सरल पेंशन प्लान खरीद मूल्य के 100 फीसदी वापसी के साथ लाइफ एन्युटी के साथ आएगा। इसका मतलब है कि एन्युटी का भुगतान ग्राहक को जीवन भर के लिए किया जाएगा और उसकी मृत्यु के बाद, जीवनसाथी को उसकी मृत्यु तक एन्युटी मिलती रहेगी। इसके बाद पति या पत्नी की मृत्यु पर कानूनी वारिस को खरीद मूल्य यानी 100 फीसदी राशि वापस मिल जाएगी।
सरल पेंशन प्लान के फायदे
बीमा नियामक इरडा के निर्देश पर बीमा कंपनियों ने एक जनवरी से सरल बीमा पॉलिसी पेश करना शुरू कर दिया है। इसमें नाम और शर्तं एक हैं जिससे उपभोक्ताओं को चुनाव में परेशानी नहीं हो रही। बीमा कंपनियां बीमा पॉलिसी की तरह पेंशन प्लान भी अलग-अलग नाम से बेचती हैं और उसे सबसे बेहतर होने का दावा करती हैं। उपभोक्ताओं के लिए उनमें से चुनाव करना बेहद कठिन होता है और बार मिलते-जुलते नाम का झांसा देकर भी इस तरह के उत्पाद बेच दिए जाते हैं। इसी को देखते हुए इरडा ने एक तरह की शर्तों और सुविधाओं वाला सरल पेंशन प्लान पेश करने को कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *