सिडनी वनडे : मेजबान होने के नाते आस्ट्रेलिया को है मनोवैज्ञानिक बढ़त

सिडनी , 26 नवम्बर (एजेन्सी)। बेशक भारत ने बीते 24 महीनों में आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए 12 मैचों में से सात में जीत हासिल की है, लेकिन शुक्रवार से जब दोनों टीमों के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज की शुरुआत होगी तो मेजबान होने के नाते मनोवैज्ञानिक बढ़त मेजबान आस्ट्रेलिया को ही होगी। सीरीज का पहला वनडे मैच सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जाएगा। भारत को वनडे सीरीज में रोहित शर्मा की कमी तो खलेगी ही साथ ही हरफनमौला खिलाडिय़ों की कमी के कारण गेंदबाजी में भी उसके पास कम विकल्प हैं। दूसरी तरफ आस्ट्रेलिया के पास चुनने के लिए कई हरफनमौला खिलाडिय़ों के कई सारे विकल्प हैं। भारत ने आखिरी बार 2018-19 में आस्ट्रेलिया का दौरा किया था तब उसने तीन मैचों की वनडे सीरीज 2-1 से जीती थी जो आस्ट्रेलियाई टीम के उसके घर में हासिल दबदबे के खिलाफ था। भारत ने आस्ट्रेलिया में आस्ट्रेलिया के खिलाफ 51 मैच खेले हैं और भारत के हिस्से इनमें से सिर्फ 13 में जीत आई है। आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर भारत को 36 मैचों में हार मिली है। भारतीय टीम में रोहित के स्थान पर मयंक अग्रवाल को टीम में शामिल किया जा सकता है। हाल ही में आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेलते हुए मयंक ने शानदार पारियां खेली थीं और 424 रन बनाए थे।पूरी संभावना है कि वह बाएं हाथ के शिखर धवन के साथ पारी की शुरुआत करने मयंक के साथ ही आएंगे। धवन ने भी आईपीएल में अपने बल्ले का जौहर दिखाया था और 600 से ज्यादा रन बनाए थे। लोकेश राहुल के बाद वह आईपीएल में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में दूसरे नंबर पर थे। रोहित की गैरमौजूदगी पर आस्ट्रेलिया की सीमित ओवरों की टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने गुरुवार को मीडिया से कहा, वह निश्चित तौर पर महान खिलाड़ी हैं, ऐसे बल्लेबाज जो हमारे खिलाफ सफल रहे हैं। जैसा मैने कहा आप हमेशा सर्वश्रेष्ठ खिलाडिय़ों के खिलाफ खेलना चाहते हो। रोहित के लिए चोटिल होना अच्छा नहीं है। लेकिन जो भी उनकी जगह आएगा, शायद मयंक अग्रवाल, वह भी शानदार फॉर्म में हैं। उनकी जगह एक अच्छा खिलाड़ी आएगा। हकीकत यह है कि भारत का शीर्ष क्रम आईपीएल में फॉर्म में दिखा था जो उसके लिए अच्छी बात है। कप्तान विराट कोहली ने भी रन किए थे और श्रेयस अय्यर ने भी। फिंच ने कहा, फॉर्म चाहे किसी भी तरह की क्रिकेट हो, ग्रेड क्रिकेट या टेस्ट क्रिकेट, मायने रखती है। रन बनाना, मैदान पर जाना अच्छा है। आस्ट्रेलियाई टीम में देखें तो डेविड वार्नर ने सनराइजर्स हैदराबाद के लिए खेलते हुए रन बनाए थे पर स्टीव स्मिथ का बल्ला राजस्थान रॉयल्स के लिए नहीं चला था। हरफनमौला खिलाडिय़ों के विकल्प के मामले में आस्ट्रेलिया मेहमान टीम से एक कदम आगे रह सकती है। मेजबान टीम के पास कई सारे हरफनमौवा खिलाड़ी हैं। भारत के पास रवींद्र जडेजा ही हैं। हार्दिक पांड्या भी टीम में हैं लेकिन आईपीएल में उन्हें गेंदबाजी करते हुए नहीं देखा गया था। ऐसे बल्लेबाजों का न होना जो गेंदबाजी भी कर सकें या वाइस वर्सा, भारत के मुख्य गेंदबाजों पर दबाव डाल देगा। अगर वह कमजोर होते हैं तो आस्ट्रेलिया कई सारे रन करेगी। विकेट के बल्लेबाजों के मददगार होने की उम्मीद है लेकिन फिंच ने कहा कि इसका कुछ पता नहीं आस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा, मैंने जस्टिन लैंगर (मुख्य कोच) से बात की है, लेकिन उन्होंने कहा है कि पिच ढकी हुई है। इसके बारे में पता नहीं। हमें कल वहां जाकर पता चलेगा। सीरीज के शुरुआती दो मैच एससीजी में ही खेले जाएंगे और इसमें 50 फीसदी दर्शक मौजूद रहेंगे।
टीमें (सम्भावित) भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, शुभमन गिल, लोकेश राहुल (उप-कप्तान/विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, हार्दिक पांड्या, मयंक अग्रवाल, रवींद्र जडेजा, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, शार्दूल ठाकुर, संजू सैमसन (विकेटकीपर)।
आस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), स्टीव स्मिथ, डेविड वार्नर, डी आर्की शॉर्ट, मार्नस लाबुशैन, एश्टन टर्नर, एश्टन एगर, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), पीटक हैंड्सकॉम्ब, पैट कमिंस, जोश हेजलवुड, मिशेल स्टार्क, एडम जाम्पा, एंड्रयू टाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *