भारत में टेस्ला की राह नहीं होगी आसान

नई दिल्ली। एलन मस्क की इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला ने भारत में दस्तक दे दी है। कंपनी ने बेंगुलुरु में अपना रजिस्ट्रेशन कराया है। हालांकि, ऑटो एक्सपर्ट का कहना है कि भारत में टेस्ला की राह आसान नहीं होने वाली है।विशेषज्ञों का कहना है कि अमेरिका के बाहर चीन के बाजार में टेस्ला का दबदबा है लेकिन भारत में उस तरह की सफलता मिलने की उम्मीद कम है। ऐसा इसलिए कि चीन में इलेक्ट्रिक कारों की हिस्सेदारी करीब 5 फीसदी है जबकि भारत में अभी यह एक फीसदी से भी कम है। अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी के अनुसार, दुनिया के लगभग 60त्न सार्वजनिक धीमी गति से और तेजी से चार्ज होने वाले स्पॉट चीन में हैं जबिक भारत में अभी चार्जिंग स्टेशन का काम शुरुआती दौर में है। इसके साथ ही भारत को फेम प्रोग्राम भी टेस्ला के गाड़ी खरीदने वालों को कोई खास मदद नहीं कर पाएगा क्योंकि इस स्कीम के तहत 1.5 मिलियन मूल्य के कार को ही सब्सिडी मिल सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *