स्लीपर फैक्ट्री से भागे दो कोरोना पॉजिटिव दिल्ली में पकड़े

फैक्ट्री मैनेजर सहित पांच के खिलाफ मामला दर्ज

श्रीगंगानगर, 21 जुलाई (का.सं.)। हनुमानगढ़ जिले में संगरिया तहसील क्षेत्र के गांव मानकसर में एक स्लीपर फैक्ट्री में कोरोना पॉजिटिव पाए चार व्यक्तियों में से दो व्यक्ति फरार हो गए, जिनको पुलिस ने पीछा कर नई दिल्ली में काबू कर लिया। वापस लाए जाने पर इन दोनों कोरोना पॉजिटिव सहित चारों संक्रमित व्यक्तियों को संगरिया में ताज पैलेस में बनाए क्वॉरेंटाइन सेंटर में कड़ी सुरक्षा में रखा गया है। इस बीच पुलिस ने फैक्ट्री के मैनेजर, सहायक मैनेजर सहित अनेक व्यक्तियों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। संगरिया थाना प्रभारी इंद्र कुमार ने बताया कि मानकसर के समीप सीमेंट के स्लीपर बनाने की इस फैक्ट्री में विगत 14 जुलाई को हरियाणा के सोनीपत से 13 लोग आए थे, जबकि वार्ड नंबर 1 में स्थित इसी फैक्ट्री में 6 जुलाई को मजदूरों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर उपखंड अधिकारी ने धारा 144 लगाई थी थी। बावजूद इसके मैनेजर और सहायक मैनेजर ने 14 जुलाई को सोनीपत से आए 13 व्यक्तियों को फैक्ट्री में प्रवेश दे दिया। उन्होंने बताया कि 16 जुलाई को मेडिकल टीम ने इनकी हेल्थ स्क्रीनिंग की और कोरोना वायरस टेस्ट सैंपल लिए। इनमें से चार व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए। थाना प्रभारी के अनुसार चारों संक्रमित व्यक्तियों को इसी फैक्ट्री में अलग आइसोलेट कर चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा वही इलाज किया जा रहा था। इन पर निगरानी रखने के लिए पुलिस लाइन के एक कर्मी भूप सिंह तरड की ड्यूटी लगाई गई थी। उसने 18 जुलाई को सुबह चेक किया तो दो संक्रमित व्यक्ति नहीं मिले। दोनों संक्रमित व्यक्तियों के साथ एक अन्य असंक्रमित मुन्ना सेठी भी फैक्ट्री से गायब हो गया। यह पता चलने पर फरार तीनों व्यक्तियों की तलाश शुरू कर दी गई। थाना प्रभारी के अनुसार तीनों को विगत रात्रि नई दिल्ली में काबू कर लिया गया। वापस लाए जाने पर दोनों संक्रमित व्यक्तियों और पहले से फैक्ट्री में इलाजरत दो संक्रमित व्यक्तियों के साथ अब इन्हें ताज पैलेस के क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखा गया है। पुलिसकर्मी भूपसिंह की रिपोर्ट पर फैक्ट्री के मैनेजर हिमांशु द्विवेदी, सहायक मैनेजर रविकांत तिवारी, के अलावा दोनों संक्रमित व्यक्तियों और इनके साथ भागे असंक्रमित मुन्ना सेठी पर धारा 188, 269, 270 और आपदा अधिनियम की धारा 51 और राजस्थान महामारी अधिनियम की धारा 45 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *