एयर कंडीशनर की कीमत 4फीसद तक बढ़ा सकती है वोल्टास, इनपुट लागत में बढ़ोतरी का असर

नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी एयर कंडीशनर निर्माता और टाटा ग्रुप की कंपनी वोल्टास जल्द ही एसी की कीमतों में बढ़ोतरी कर सकती है। कंपनी ने संकेत दिया है कि इनपुट लागत बढऩे के कारण कीमतों में बढ़ोतरी हो सकती है। हालांकि, कंपनी मांग में सुधार का इंतजार कर रही है। चीन के साथ हालिया तनाव के बाद इंपोर्ट ड्यूटी बढऩे के डर के कारण कीमतों में बढ़ोतरी का फैसला जल्द लिया जा सकता है। आईआईएफएल सिक्युरिटीज की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इंपोर्ट ड्यूटी बढऩे के कारण कंपनी को घरेलू स्तर पर कच्चे माल का वैकल्पिक स्रोत तलाशना होगा। इस कारण कंपनी को 3 से 4फीसद तक कीमत बढ़ानी होगी। ताजा तिमाही नतीजों में ब्लूस्टार और व्हर्लपूल के मुकाबले बेहतर प्रदर्शन के कारण मैनेजमेंट का भरोसा काफी मजबूत हुआ है। वित्त वर्ष 2021 की सितंबर तिमाही में वोल्टास के ओवरऑल वॉल्यूम में 14फीसद की ग्रोथ रही है। जबकि एसी सेगमेंट में 1फीसद, कमर्शियल रेफ्रिजरेशन उत्पादों में 20फीसद और एअर कूलर सेगमेंट में 28फीसद की ग्रोथ रही है। कीमतों में बढ़ोतरी के बावजूद वोल्टास के मैनेजमेंट को भरोसा है कि उसकी बाजार हिस्सेदारी में बढ़ोतरी होगी। खासतौर पर रूम एयर कंडीशनर की बिक्री बढ़ेगी। अच्छी फेस्टिव मांग, गहरी डिस्ट्रीब्यूशन पहुंच और उत्पादों के विस्तार की योजना से कंपनी की ग्रोथ बेहतर रह सकती है। कंपनी का यह भरोसा शेयर में भी दिखता है। दूसरी तिमाही की शुरुआत यानी अगस्त से अब तक वोल्टास के शेयरों में 49फीसद की बढ़ोतरी हो चुकी है। हालांकि, कंपनी के पॉजीटिव आउटलुक के बावजूद ब्रोकरेज नियर-टर्म ग्रोथ को लेकर अभी भी चिंतित दिख रहे हैं। आईआईएफएल की रिपोर्ट में कहा गया है कि पाइपलाइन में चल रहे प्रोजेक्ट के कारण मीडियम टर्म आउटलुक प्रभावित हो रहा है। साथ ही कंपनी भी नए ऑर्डर की बुकिंग को लेकर सतर्कता बरत रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *