यूनेस्को की ओर से जयपुर को दिया जायेगा विश्व विरासत शहर का प्रमाण पत्र

 

जयपुर, 4 फरवरी (का.सं.)। विश्व में अपने स्थापत्य कला और संस्कृति के लिए मषहूर जयपुर की शान में बुधवार को एक और सितारा जुड़ जायेगा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं यूनेस्को महानिदेशक ऑद्रे अजोले की मौजूदगी में अल्बर्ट हॉल पर शाम 5.30 बजे आयोजित भव्य समारोह मे यूनेस्को द्वारा जयपुर को वर्ल्ड हैरिटेज सिटी का प्रमाण पत्र प्रदान किया जायेगा। इस अवसर पर रंगारंग सांस्कृतिक संध्या का भी आयोजन किया जायेगा। जयपुर के सम्मान से जुडे इस दिन को ऐतिहासिक बनाने के लिए नगर निगम ने पूरी तैयारियां कर ली है। स्वागत के लिए शहर को सजाया- यूनेस्को महानिदेशक के स्वागत के लिए शहर में जगह-जगह गुलाबी नगरी की थीम पर होर्डिंग्स लगाये गये है। बुधवार सुबह 9.30 बजे से 11 बजे तक वे आमेर फोर्ट का विजिट करेगी। उसके बाद वे राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विधालय आमेर जायेगी। दोपहर 12.30 बजे से 1.30 बजे तक वे हवामहल और परकोटा शहर का दौरा करेगीं। शाम 5.30 बजे वे अल्बर्ट हॉल पर आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करेगीं। यह रहेगी पार्किंग व्यवस्था- कार्यक्रम स्थल (अल्बर्ट हॉल) पर आने वाले पासधारक (कार्डधारक) एमजीडी स्कूल के सामने वाले गेट से या रवीन्द्र मंच से प्रवेश कर सकेगें। पार्किंग की व्यवस्था रामनिवास गार्डन की भूमिगत पार्किंग में रहेगी। आमजन न्यूगेट से प्रवेश कर सकेगें तथा अपना वाहन रामलीला मैदान में पार्क कर सकेगें। सांस्कृतिक संध्या मे बिखरेंगें लोक संगीत और लोक नृत्य के रंग- इस समारोह को उत्सव के रूप में मनाया जायेगा। इस अवसर पर एक रंगारंग सांस्कृतिक संध्या भी आयोजित की जा रही है। अल्बर्ट हॉल पर 5 फरवरी को शाम 5 बजे से शुरू होने वाले इस कार्यक्रम में प्रसिद्ध कोरियोग्राफर पद्म श्री बन्शी कौल के निर्देशन में आकार्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये जायेगें। जाने-माने लोक कलाकारों द्वारा कालबेलिया, चरी, लाल आंगीे गैर, सहरिया, स्वांग भवाई लोक नृत्य एवं शास्त्रीय नृत्य कथक की प्रस्तुती दी जायेगी। इसी प्रकार निसार खान एवं ग्रुप द्वारा शानदार शास्त्रीय संगीत प्रस्तुत किया जायेगा।
लंगा मांगणियार की फोक सिंफनी और भपंग वादन कार्यक्रम के मुख्य आकर्षण होगें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *